नेशनल हेराल्ड केस: दिल्ली हाईकोर्ट में एजेएल की याचिका पर आज सुनवाई           मुंबई: मराठा आरक्षण मामले में आज पिछड़ा वर्ग आयोग सौंपेगा जांच रिपोर्ट           पेट्रोल की कीमत में गिरावट, दिल्ली में 15 पैसे की कमी के बाद 77.28 रु./लीटर हुआ           डीजल की कीमत में गिरावट, दिल्ली में 10 पैसों की कमी के बाद 72.09 रु./लीटर हुआ           पीएम मोदी सिंगापुर में आसियान-इंडिया इनफॉर्मल ब्रेकफास्ट समिट में शामिल हुए           दिल्ली: बवाना इंडस्ट्रियल इलाके के प्लास्टिक के गोदाम में लगी आग काबू में           दिल्लीः वसंत कुंज में डबल मर्डर, महिला फैशन डिजाइनर और नौकर की हत्या           दिल्लीः डबल मर्डर केस में पूछताछ के लिए 3 नौकर हिरासत में लिए गए           गाजा तूफान की आहट से सहमा दक्षिण भारत, तटीय इलाकों में हाईअलर्ट           उत्तर भारत के तीन राज्यों में भारी बर्फबारी से रफ्तार पर ब्रेक           जम्मू कश्मीर में जमकर बर्फबारी, सर्दी के शुरुआती दिनों में सफेद हुई घाटी         
होम | देश | शेयर बाजार में आई 500 अंकों की गिरावट, ग्लोबल मार्केट में भी असर

शेयर बाजार में आई 500 अंकों की गिरावट, ग्लोबल मार्केट में भी असर

 

नई दिल्ली। भारतीय शेयर बाजार के लिए शुक्रवार के सत्र की शुरुआत बेहद खराब रही। बाजार खुलते ही शुरुआती सेकेंडों में ही सेंसेक्स 550 अंक से ज्यादा टूट गया वहीं निफ्टी में 170 अंक से ज्यादा की गिरावट देखने को मिली। बाजार में आई इस भारी गिरावट की वजह दुनियाभर के शेयर बाजार में भारी बिकवाली है। शेयर बाजार में आई इस गिरावट में मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में भी मुनाफावसूली देखने को मिल रही है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर दोनो ही इंडेक्स 1 फीसद से ज्यादा टूटकर कारोबार कर रहे हैं। बाजार की गिरावट में निफ्टी में शुमार 50 के 50 शेयर लाल निशान में कारोबार कर रहे हैं।

हालांकि, कारोबार के अंतिम घंटे में मुनाफावसूली तथा यूरोपीय बाजारों के कमजोर रुख से यह कुछ नीचे आया। अंत में सेंसेक्स 330.45 अंक या 0.97 प्रतिशत की बढ़त से 34,413.16 अंक पर बंद हुआ। यह इसकी दो सप्ताह में एक दिन की सबसे बड़ी बढ़त है। पिछले सात सत्रों में सेंसेक्स 2,200.54 अंक टूटा है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 100.15 अंक या 0.96 प्रतिशत की बढ़त के साथ 10,576.85 अंक पर पहुंच गया था। कारोबार के दौरान यह 10,637.80 से 10,479.55 अंक के दायरे में रहा. हालिया गिरावट वाले बैंकिंग शेयरों के अलावा फार्मा और आईटी शेयरों में मूल्यवर्धन वाली लिवाली उभरने से बाजार में तेजी आई।

दरअसल, शेयर बाज़ारों की गिरावट की दो वजहें हैं। पहले आम बजट से शेयर बाज़ार में नकारात्मक माहौल है, जबकि अमेरिकी शेयर बाजारों में भी गिरावट का दौर है। कल अमेरिकी शेयर बाजार का मुख्य सूचकांक डाओजोंस भारी गिरावट के साथ बंद हुआ। डाओजोंस में 1000 अंकों की गिरावट देखी गई।

दुनिया के बाजारों में कोहराम मचने का असर भारतीय शेयर बाज़ों पर भी पड़ रहा है। अमेरिकी बाजारों में गिरावट की वजह से एशिया के दूसरे शेयर बाज़ारों में भी गिरावट का दौर है। जापान, हांग कांग और चीन के शेयर बाजारों में भी गिरावट दर्ज की गई है।


जनता लाइव टीवी

Right Ads
Google Play

© Copyright Jantatv 2016. All rights reserved. Designed & Developed by: Paramount Infosystem Pvt. Ltd.