अखिलेश यादव ने कहा- जो कांग्रेस है वो बीजेपी है और जो बीजेपी है वो कांग्रेस है           केरल: कोच्‍च‍ि पहुंची तृप्‍त‍ि देसाई ने कहा- सबरीमाला में पूजा करना हमारा मिशन           किम जोंग के सुपरविजन में उत्‍तरी कोरिया ने नए हथियार हाईटेक का किया परिक्षण           पेट्रोल की कीमत में गिरावट, दिल्‍ली में 18 पैसे की कमी के बाद 77.10 रुपए प्रति लीटर हुआ           डीजल की कीमत में गिरावट, दिल्‍ली में 16 पैसे की कमी के बाद 71.93 रुपए प्रति लीटर हुआ           J-K: आतंकियों द्वारा पुलवामा से अगवा किए गए नागरिक का बुलेट से छलनी शव मिला           कोच्‍च‍ि: सुरक्षा की दृष्‍ट‍ि से पुलिस ने तृप्‍त‍ि देसाई को एयरपोर्ट पर रोका           दिल्ली: पारिवारिक झगड़े के बाद हेड कॉन्स्टेबल ने की खुदकुशी           सबरीमाला विवाद: टैक्सी ड्राइवरों का तृप्ति देसाई को निलक्कल ले जाने से इनकार           सबरीमाला विवाद: मुझ पर हमला हो सकता है, मुझे धमकियां मिली- तृप्ति           अमृतसर में आतंकी जाकिर मूसा के घुसने की खबर, पुलिस ने लगाए पोस्टर          
होम | दुनिया | SCO सम्मेलन : पीएम मोदी ने पाकिस्तान के राष्ट्रपति से मिलाये हाथ, कुछ सेकेंड की हुई गुफ्तगू

SCO सम्मेलन : पीएम मोदी ने पाकिस्तान के राष्ट्रपति से मिलाये हाथ, कुछ सेकेंड की हुई गुफ्तगू

 

चिंगदाओ: भारत और पाकिस्तान के तनावपूर्ण संबधों के बीच यहां शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और पाकिस्तान के राष्ट्रपति ममनून हुसैन ने हाथ मिलाए और संक्षिप्त बातचीत की। चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के मीडिया को संबोधित करने के बाद दोनों नेताओं ने हाथ मिलाए और संक्षिप्त बातचीत की। चीन एससीओ का मेजबान देश है। मोदी और हुसैन 18 वें एससीओ शिखर सम्मेलन की समाप्ति पर मीडिया ब्रीफिंग के दौरान अन्य नेताओं के साथ मौजूद थे। भारत और पाकिस्तान ने इस सम्मेलन में पूर्णकालिक सदस्य के रूप में शिरकत की। मोदी अन्य एससीओ देशों के नेताओं के साथ कम से कम छह द्विपक्षीय बैठकें कर चुके हैं लेकिन मोदी और हुसैन के बीच कोई द्विपक्षीय बैठक नहीं हुई है।

वहीं, पीएम मोदी ने एससीओ के प्लेनरी सेशन को संबोधित करते हुए आतंकवाद के मुद्दे पर बिना नाम लिए पाकिस्तान को आड़े हाथ लिया। अफगानिस्तान में आतंकवाद के बढ़ते प्रभाव पर चिंता व्यक्त करते हुए पीएम मोदी ने इस दुर्भाग्यपूर्ण उदाहरण बताया। 

पीएम मोदी ने कहा, ''अफगानिस्तान आतंकवाद के प्रभावों का सबसे दुर्भाग्यपूर्ण उदाहरण है। मुझे उम्मीद है कि राष्ट्रपति घनी (अशरफ घनी) ने शांति स्थापित करने के लिए जो कदम उठाए हैं, उसका क्षेत्र के सभी देश सम्मान करेंगे।' साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि भारत की सुरक्षा के साथ कोई भी समझौता नहीं किया जाएगा। 

भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्ते उरी अटैक और कुलभूषण जाधव की गिरफ्तारी के बाद से अपने सबसे निम्न स्तर पर है। एससीओ ग्रुप का सदस्य बनने के बाद यह पहला मौका है, जब पीएम मोदी ने इस मंच से पाकिस्तान पर अप्रत्यक्ष रूप से अटैक किया है। इससे पहले भी कई अलग-अलग मंचों पर भारत आतंकवाद मुद्दों पर पाकिस्तान को घेरता आया है। 


जनता लाइव टीवी

Right Ads
Google Play

© Copyright Jantatv 2016. All rights reserved. Designed & Developed by: Paramount Infosystem Pvt. Ltd.