Top ADVT
होम | दुनिया | चिकित्सा क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार विजेता ने कहा- नहीं सोचा था कि मेरा रिसर्च इस दिशा में बढ़ेगा

चिकित्सा क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार विजेता ने कहा- नहीं सोचा था कि मेरा रिसर्च इस दिशा में बढ़ेगा

 

यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास के एमडी एंडरसन कैंसर सेंटर में इम्यूनोथैरेपी प्लेटफॉर्म के कार्यकारी निदेशक जेम्स पी एलिसन को शरीर में ट्यूमर के बजाय प्रतिरक्षा प्रणाली का उपचार करके कैंसर का मुकाबला करने के नए प्रभावी तरीके को इजाद करने के लिए चिकित्सा का 2018 का नोबेल पुरस्कार विजेता घोषित किया गया है। उन्होंने रिसर्च किया कि शरीर की प्राकृतिक प्रतिरक्षा प्रणाली कैंसर से किस तरह लड़ सकती है। इस मौके पर एलिसन ने कहा कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि उनका रिसर्च इस दिशा में बढ़ेगा।

 

एलिसन ने कहा, 'मैं इस प्रतिष्ठित पुरस्कार को पाकर सम्मानित और आह्लादित महसूस कर रहा हूं। वैज्ञानिकों के लिए प्रेरणा पाने का तरीका केवल ज्ञान की सीमाओं का विस्तार करना है। मैंने कभी कैंसर के अध्ययन की शुरूआत नहीं की थी, बल्कि टी कोशिकाओं के जीवविज्ञान को समझने पर ध्यान केंद्रित किया था, जो कोशिकाएं हमारे शरीर में पहुंचकर हमें सुरक्षित करने का काम करती हैं।'

 

स्टॉकहोम में नोबेल असेंबली ऑफ कैरोलिंस्का इंस्टिट्यूट ने 70 वर्षीय एलिसन और जापान की क्योटो यूनिवर्सिटी के 76 वर्षीय होंजो को पुरस्कार की घोषणा करते हुए कहा, 'ट्यूमर कोशिकाओं पर हमला करने के लिए हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली की क्षमता बढ़ाकर इस वर्ष के नोबेल पुरस्कार विजेताओं ने कैंसर के उपचार का एक बिल्कुल अलग सिद्धांत प्रतिपादित किया है।'

 


जनता लाइव टीवी

Right Ads
Bottom ads
Google Play

© Copyright Jantatv 2016. All rights reserved. Designed & Developed by: Paramount Infosystem Pvt. Ltd.