tata sky
बहादुरगढ़-धुंध के कारण टकराईं 20 से ज्यादा गाड़िया, NH-9 पर आसौदा मोड़ के पास हुआ हादसा          दिल्ली- पंजाब CM कैप्टन अमरिंदर करेंगे राहुल गांधी से मुलाकात, राणा गुरजीत के इस्तीफे पर हो सकती है           दिल्ली- GST काउंसिल की 25वीं बैठक शुरू, बैठक में सभी राज्यों के वित्तमंत्री मौजूद          फिल्म पद्मावत को लेकर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज, हरियाणा समेत 5 राज्यों में बैन के खिलाफ सुनवाई          J&K- पाकिस्तान ने आरएसपुरा में LoC पर तोड़ा सीजफायर, सेना का एक जवान शहीद          फतेहाबाद-घर में घुसकर युवती से गैंगरेप, 2 युवकों पर गैंगरेप का लगा आरोप          दिल्ली-NCR में कोहरे से यातायात प्रभावित, 5 ट्रेनें रद्द,11 के समय में किया गया बदलाव           पंचकूला-डेरा प्रबंधक रंजीत सिंह हत्या का मामला, पंचकूला की विशेष सीबीआई कोर्ट में होगी सुनवाई         
होम | दुनिया | भारत ने इजरायल से रद्द किया 50 करोड़ डॉलर का सौदा, अब DRDO बनाएगा स्‍पाइक एन्टी-टैंक मिसाइल

भारत ने इजरायल से रद्द किया 50 करोड़ डॉलर का सौदा, अब DRDO बनाएगा स्‍पाइक एन्टी-टैंक मिसाइल

 

नई दिल्ली: भारत ने इस्राइली कंपनी के साथ 50 करोड़ डॉलर का रक्षा सौदा रद्द कर दिया है. इस्राइल की एक शीर्ष रक्षा कंपनी ने इस बात की पुष्टि की है. इस रक्षा सौदे के तहत स्पाइक टैंक-रोधी मिसाइलों का निर्माण किया जाना था. यह सौदा उस समय रद्द हुआ है जब प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतान्याहू पहली बार भारत दौर पर आने वाले हैं. हालांकि इस खबर पर रक्षा मंत्रालय ने आधिकारिक तौर पर कोई प्रतिक्रिया नही दी हैं. ऐसी मिसाइल देश में खुद डीआरडीओ ही बनाएगा।

नई दिल्ली में भारतीय रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने सौदा रद करने के प्रकरण पर टिप्पणी करने से इन्कार किया है। 

भारत हाल के वर्षों में इजरायल से हथियारों का बड़ा खरीदार बना है। भारत प्रति वर्ष करीब एक अरब डॉलर (6,500 करोड़ रुपये) के हथियार इजरायल से खरीदता है। 2016 में देश के पहले प्रधानमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी की इजरायल यात्रा ने दोनों देशों के संबंधों को और मजबूती दी है।

अब जबकि नेतन्याहू भारत जा रहे हैं तब दोनों देशों के संबंधों में और प्रगाढ़ता आने की उम्मीद है। लेकिन स्पाइक एंटी टैंक मिसाइल सौदा रद करने के पीछे भारत ने कोई कारण नहीं बताया है। राफेल ने भारत सरकार के फैसले पर हैरानी जताई है। साथ ही उम्मीद जताई है कि भारत के साथ भविष्य में उसका व्यापार बेहतर होगा। कंपनी भारत के साथ दो दशक से ज्यादा समय से अत्याधुनिक किस्म के हथियारों का व्यापार कर रही है।

मंगलवार को भारत ने 445 करोड़ रुपये के जिन 131 बराक मिसाइलों के सौदे को अंतिम रूप दिया है, उन्हें भारत द्वारा बनाए जा रहे पहले विमान वाहक पोत में लगाए जाने की योजना है। बराक सतह से हवा में मार करने वाली खास मिसाइल है। 

 


जनता लाइव टीवी

Right Ads
Google Play

© Copyright Jantatv 2016. All rights reserved. Designed & Developed by: Paramount Infosystem Pvt. Ltd.