मुंबई: क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया ने PAK पीएम इमरान खान की फोटो हटाई          वायुसेना हर हालात के लिए तैयार- एयर मार्शल अनिल खोसला          J-K: पाकिस्तान ने राजौरी में किया सीजफायर का उल्लंघन           नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा- पुलवामा हमले को लेकर अपने बयान पर कायम हूं          J-K: राजौरी में LoC के पास ब्लास्ट, सेना का अधिकारी शहीद           मैं भरोसा देता हूं कि हर आंसू का जवाब लिया जाएगा : पीएम मोदी          भारत नई रीति और नई नीति का देश है, ये अब दुनिया भी अनुभव करेगी: पीएम मोदी          कपिल शर्मा शो से हटाए गए नवजोत सिंह सिद्धू         
होम | हरियाणा | MP SUMMIT 2019: सरकार के 5 साल का लेखा-जोखा

MP SUMMIT 2019: सरकार के 5 साल का लेखा-जोखा

 

फरीदाबाद में रविवार को जनता टीवी ने एमपी समिट 2019 आयोजित किया . जिसमें हरियाणा के सभी बड़े नेता मौजूद रहे. दरअसल, इस एमपी समिट 2019 के आयोजन का अहम उद्देश्य था कि सरकार से 5 साल का हिसाब लेना था. जहां जनता ने वाहट्सप के जरिए नेताओं से सवाल पूछे. एमपी समिट 2019 कार्यक्रम में हरियाणा के सभी बड़े सासंद कृष्णपाल गुर्जर, चौधरी बीरेंद्र सिंह, रतनलाल कटारिया, धरमबीर सिंह, चरणजीत सिंह रोड़ी, राजकुमार सैनी, रमेश कौशिक और दुष्यंत चोटाला मौजूद रहे.

कार्यक्रम के दौरान जनता टीवी के सीनियर जर्नलिस्ट ने एमपी पर सवाल दागें तो वहीं सभी एमपी ने भी सभी सवालों का बेपाक होकर जवाब दिया. कभी धूमा के सवाल की बॉल डाली गयी तो कभी सीधे सवालों की बोछार कर दी. मगर नेता तो नेता ठहरे, सियासत के बादशाहों ने यू ही थोड़ी 5 साल राज किया था. हरियाणा सरकार के हर एमपी ने हर सवाल पर हिसाब देते हुए, खुद को अन्य पार्टियों से बेहतर तो बता दिया, तो जहां वह डग-मगाए वहां सियासी छक्के लगा दिए.

केंद्रीय मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह ने एमपी की जिम्मेदारियां बताई. उन्होने कहा कि ‘नौकरियां दिलवाने की जिम्मेदारी सासंद की नहीं है, सासंद की जिम्मेदारी देश की मूलभूत समस्याओं पर विचार करना हैं’. साथ ही उन्होने कहा कि मतदाता को नए तरीके से सोचने की जरूरत है, जिससे प्रजातंत्र स्वस्थ होगा. उन्होनें कहा कि जनता चाहती है कि सांसद देश की अर्थव्यवस्था, रक्षा व्यवस्था को मजबूत करे और देश नीतियों को नया स्वरूप दे. साथ ही उन्होने गंगा के विषय पर कहा कि ‘गंगा कभी साफ नही हो सकती, जब तक जमुना साफ नही होगी’. इनकी सफाई के लिए लखवाड़ डैम और किशाऊ डैम के बनने की जरूरत है.

वहीं कृष्णपाल गुर्जर ने कहा - 5 साल में मंत्री के तौर पर मेरे पास जो विभाग रहे है, उसका जवावदेही मैं हूं. मैं किसी की अलोचना नहीं करूगां, जो लोग आलोचना करते है वो काम नही करते. उन्होने बताया कि फरीदाबाद जिले के तमाम गांवों में 24 घंटे बिजली दी है, तो वहीं मीठे पानी का बिल भी लेकर आए है. शिक्षा के क्षेत्र में यूनिवर्सिटी का निर्माण कार्य शुरू करवाया है. बार्डर से ग्रेटर नोएडा जाने के लिए 4 पुल बनवाए. जिससे नोएडा और ग्रेटर नोएडा से फरीदाबाद की दूरी महज 15 मिनट में सिमट जाएगी. हमने 30 साल बाद 400 करोड़ का यमुना पर ब्रिज बनना शुरू करवाया है जो कि 4 महीने बाद तक बन कर तैयार हो जाएगा . सड़के बनवाने से लेकर हमने सड़कों पर LED भी लगवाए. YMCA से बल्लभगढ़ कर मेट्रों कनेक्टिविटि करवाई. इसके अलावा हमने बहुत से काम अपने 5 साल के कार्यकाल में किए है.

इसके बाद अंबाला से सासंद रतनलाल कटारिया से जब रेलवे साइन को लेकर बात की तो उन्होने कहा कि मैं एक साधारण परिवार से आता हूं, भारत बजट से 25 करोड़ रूपये रेलवे परियोजना के लिए रखा गया है. जिस दिन केंद्र सरकार और राज्य सरकार के बीच तय हो जाएगा कि कौन कितना प्रतिशत पैसा देगा, उस दिन रेल परियोजना का काम शुरू हो जाएगा . मैने मोदी जी को आगामी योजनाओं को लेकर पत्र लिखा है जिस पर उन्होनें मुझे जवाब भी दिया है.

जनता टीवी के सलाहकार संपादक शशि रंजन ने जब सासंद धरमबीर सिंह से पूछा कि वह लोकसभा चुनाव लड़ेगें या विधानसभा चुनाव ?  तो  धरमबीर सिंह ने राजनितिक अदा में जवाब देकर कह दिया कि जो उनकी पार्टी को मजूंर हो. उन्होने कहा कि देश कि जनता बहुत होशियार है. वह 100 गुना आगे सोचती है. आपको बता दे कि धरमबीर सिंह हमेशा से पार्टियों को छोडने पर हमेशा सुर्खियों में रहते हैं .

सासंद चरणजीत सिंह रोड़ी ने खुद को जमीन से जुड़ा हुआ नेता बताया. उन्होने कहा – ‘मैं जनता के साथ भाईचारे वाला व्यवहार रखता हूं. साथ ही उन्होने बताया कि एडयूकेशन पर हमने काफी पैसा लगाया है. इसके अलावा 1 करोड़ 62 लाख रूपये के टैंकर हमने हर पिंड में पहुचाएं है

.जब कुरूक्षेत्र से सासंद राजकुमार सैनी  की बारी आई तो उनका कहना था कि मुझे हिसाब देने और लेने की आदत हैं. प्रजातंत्र के नाम पर 70 साल से ड्रामा चला आ रहा है. हम तो बस जनता को जागरूक कर रहें हैं. हमारा जनता को गुंडा गरदी से आजाद कराने का मिशन है. मैं बैसाखियों में विश्वास नही रखता.

तो वहीं सासंद रमेश कौशिक ने कहा किसान की समस्या पर हर नेता को गंभीर रूप से सोचना पढ़ेगा. विरोधी दल झूठ बोलते है, मैने अपने सारे काम बखूबी करे है, चाहे वह रेलवे को लेकर हो या रोड़ को लेकर.

दुष्यंत चोटाला ने कहा जो लोग हमें काम्पिटिशन में नहीं मानते थे, हमारे काम ने उन लोगों को जवाब दिया है. अभी आगामी चुनाव में हम बहुत मजबूती से मुकाबला करेगें. जनता को हमारे काम को लेकर गंभीरता का आभास है. इसी तरह से सवालों और जवाबों का दौर चला जहां सासंदों ने अपने 5 साल का हिसाब के साथ साथ कई गंभीर मुद्दों पर भी बात की.

 


जनता लाइव टीवी

Right Ads
Google Play

© Copyright Jantatv 2016. All rights reserved. Designed & Developed by: Paramount Infosystem Pvt. Ltd.