Top ADVT
होम | हरियाणा | हरियाणा: बस डिपो की जर्जर बिल्डिंग कभी भी ले सकती है यात्रियों की जान

हरियाणा: बस डिपो की जर्जर बिल्डिंग कभी भी ले सकती है यात्रियों की जान

 

नारनौल: नारनौल बस डिपो की बिल्डिंग पूरी तरह से असुरक्षित है। करीब 30 साल पुरानी बस स्टैण्ड की ईमारत को B&R 4 साल पहले कंडम घोषित कर चुका था,  वही परिवहन विभाग इस बिल्डिंग की छत बदलने के लिए करीब 75 लाख रूपये B&R विभाग को 3 साल पहले ही जमा करा चुका है, लेकिन अब विभाग छत बदलने की बजाये उसकी रिपेयरिंग कर रहा है।

ऐसे में नारनौल बस स्टैण्ड की बिल्डिंग यात्रियों के लिए परेशानी का सबब बन गई है। करीब 30 साल पुरानी बस अडडे की ईमारत की छत पूरी तरह से कंडम हो चुकी है। सरीये गल चुके हैं। बता दें कि 3 साल पहले 75 लाख रूपये की राशि B&R विभाग को दी जा चुकी है, लेकिन अब B&R विभाग इस बिल्डिंग की नई छत डालने की बजाये इसे रिपेयर कर रहा है। विभाग अपने ही आदेशों से किस तरह से पलट गया, ये देखने वाली बात है। विभाग की एसडीओ की माने तो छत की रिपेयरिंग चण्डीगढ की एक स्पेशल एजेन्सी के माध्यम से करवाई जा रही है।

गौरतलब है कि यहां आने वाले यात्री अपने आप को असुरक्षित महसुस करते हैं। यात्रियों की माने तो यहां की बिल्डिंग की छत पूरी तरह से जर्जर हो चुकी है, जो कभी भी जानलेवा साबित हो सकती है।

नारनौल बस स्टैण्ड की बिल्डिंग पूरी से खण्डहर में तब्दील हो चुकी है। खुद B&R ने इस बिल्डिंग को कंडम घोषित कर कहा था कि बस स्टैण्ड की छत रिपेयर नहीं हो सकती है, बल्कि नई डालनी होगी, लेकिन अब B&R खुद इस छत की रिपेयरिंग करवा रहा है, जो कई सवालों को जन्म देता है।


जनता लाइव टीवी

Right Ads
Bottom ads
Google Play

© Copyright Jantatv 2016. All rights reserved. Designed & Developed by: Paramount Infosystem Pvt. Ltd.