tata sky
लोकसभा चुनाव में BJP चखेगी हार का स्वादः चंद्रबाबू नायडू           मायावती के बयान पर बोले अखिलेश- गठबंधन पर चर्चा होने की बात हुई साफ           दलितों से अत्याचार के मामलों के लिए विशेष कोर्ट का गठन किया जा रहा: PM मोदी           एक परिवार की पूजा करने वाले कभी लोकतंत्र की पूजा नहीं कर सकतेः PM मोदी          14 लेन का सफर दिल्ली-NCR के लोगों के जीवन को सुगम बनाने वाला है: PM          पीएम मोदी ने किया ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन           खेल सिर्फ खेल नहीं होते, वह जीवन के मूल्यों को सिखाते है: पीएम मोदी           फिट इंडिया की बात करता हूं तो मानता हूं कि जितना हम खेलेंगे, उतना ही देश खेलेगा: PM           पुणे: क्राइम ब्रांच ने 59 किलो चंदन बरामद किया, 1 शख्स गिरफ्तार           मोदी सरकार के विरोध में विश्वासघात दिवस मना रहे कांग्रेस नेताओं पर मुकदमा दर्ज           BJP के मंत्रियों को मां नर्मदा की परिक्रमा करने का चैलेंज देता हूं: दिग्विजय           श्रीनगर: वाहन पलटने से हादसा, CRPF के 19 जवान घायल           पीएम मोदी ने किया दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे का उद्घाटन          
होम | हरियाणा | चरखी दादरी: कृषि विभाग में अधिकारियों का अभाव, आखिर कैसे खुशहाल होंगे किसान ?

चरखी दादरी: कृषि विभाग में अधिकारियों का अभाव, आखिर कैसे खुशहाल होंगे किसान ?

 

चरखी दादरी: सूबे की मनोहर सरकार ने दादरी को जिला तो बना दिया, लेकिन किसान उन्नति की ओर आगे कदम नहीं बढ़ा पाए है और बढ़ाए भी तो कैसे? जब कृषि विभाग में सरकार अधिकारियों की नियुक्ति तक नहीं कर पाई है, ऐसे में किसान जानकारी के अभाव में कैसे उन्नत हो पाएंगे।

बीजेपी सरकार ने सूबे को लोगों को दादरी को जिला बना एक नई सौगात तो दे दी, लेकिन किसानों को उन्नत बनाने के लिए कृषि विभाग में अधिकारियों की नियुक्ति अभी तक नहीं की है। नवगठित जिले के कृषि विभाग कार्यालय में अधिकांश अधिकारियों के पद खाली पड़े हैं, जिसके कारण किसानों को सरकार की योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है। जिला बनने के डेढ़ साल बाद भी जिले के करीब 40 गांवों की कमान एक कृषि विकास अधिकारी के कंधे पर है। वहीं कृषि उपनिदेशक सहित अधिकांश पदों की कुर्सियां खाली होने से किसानों को दी जानी वाली सुविधाएं दम तोड़ रही हैं।

 

कैसे खुशहाल होंगे किसान ?    

-नवगठित जिले को डीडीए की दरकार

-22 एडीओ में 4 के कंधे पर बोझ

-172 गांवों के किसानों को मिले 4 एडीओ

 

पूर्व सहकारिता मंत्री सतपाल सांगवान ने किसानों का उन्नत बनाने के लिए सरकार के दावों को मात्र जुमले करार दिया है।

वहीं बाढड़ा से बीजेपी विधायक सुखविंद्र मांढी का कहना है कि जिले में अधिकारियों की नियुक्तियां की जा रही हैं।

दादरी जिले में कृषि अधिकारियों के 33 पद हैं, जिनमें से 24 पद रिक्त हैं। जिले के खाली पदों में एक उपनिदेशक, एक SDO, एक BO, 18 ADO और 3 पद SMS के पद खाली पड़े हुए हैं। अब कोई विधायक साहब ये पूछे कि जब इतने वक्त से पद खाली पड़े है तो वो नियुक्तियां कहां कर रहे है। 


जनता लाइव टीवी

Right Ads
Google Play

© Copyright Jantatv 2016. All rights reserved. Designed & Developed by: Paramount Infosystem Pvt. Ltd.