J-K: पाकिस्तान ने राजौरी में किया सीजफायर का उल्लंघन           नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा- पुलवामा हमले को लेकर अपने बयान पर कायम हूं          J-K: राजौरी में LoC के पास ब्लास्ट, सेना का अधिकारी शहीद           मैं भरोसा देता हूं कि हर आंसू का जवाब लिया जाएगा : पीएम मोदी          भारत नई रीति और नई नीति का देश है, ये अब दुनिया भी अनुभव करेगी: पीएम मोदी          कपिल शर्मा शो से हटाए गए नवजोत सिंह सिद्धू         
होम | हरियाणा | सरकार ने की 1423 किसानों के नुकसान की भरपाई, किसानों को दी 2.5 करोड़ की राशि

सरकार ने की 1423 किसानों के नुकसान की भरपाई, किसानों को दी 2.5 करोड़ की राशि

 

पंचकुला: हरियाणा सरकार ने  भावान्तर भरपाई योजना के तहत 2 करोड़ 46 लाख 57 हजार रुपये से 1423 किसानों को आलू उत्पादन के नुकसान की भरपाई की है. ये राशि हरियाणा के कृषि मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ ने पंचकूला के सेक्टर 14 स्थित किसान भवन में आयोजित कृषि सांख्यिकी सुधार के दूसरे राष्ट्रीय कार्यशाला में 10 किसानों को दी है.

जनता टीवी की रिपोर्ट जरिए भावान्तर भरपाई योजना की शुरूआत प्रदेश सरकार ने पिछले साल शुरू की थी. जिसके तहत आलू, प्याज , फूलगोभी और टमाटर को लिया गया था. जिसका मकसद था कि सब्जी काश्तकारों को जोखिम मुक्त किया जाए. किसानों को फसल में होने वाले नुकसान को ध्यान में रखकर भवान्तर भरपाई योजना को शुरू किया गया. इसी के तहत पंचकूला के सेक्टर 14 स्थित किसान भवन में कृषि सांख्यिकी सुधार पर द्वितीय राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन किया गया. इस मौके पर हरियाणा के कृषि मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि आलू की फसल दो बार साल में आती है. एक बार परिपक्व आलू की और एक बार कच्चे आलू की. पिछले वर्ष कच्चे आलू की फसल बिकते समय विपक्ष ने खूब हंगामा किया था. किसानों के नुकसान को देखते हुए प्रदेश सरकार ने कच्चे आलू की फसल को भवान्तर भरपाई योजना में पहली बार शामिल किया. इसी के तहत 2 करोड़ 46 लाख 57 हज़ार रुपये डिजिटल माध्यम से किसानों के खाते में भेजने की प्रक्रिया शुरू की गई है.

वहीं बीजेपी नेता ओम प्रकाश धनखड़ ने कहा कि हरियाणा प्रदेश के किसानों के लिए गौरव व हर्ष की बात है. देश मे पहली बार किसानों के नुकसान भरपाई की गई है. उन्होंने कहा कि शरुआत में पूरे प्रदेश में एक रेट था. लेकिन उसमें आई समस्याओं के चलते इससे कुछ मंडियों के क्लस्टर तक सीमित किया गया. जिससे किसानों को अधिक लाभ मिला.

साथ ही अंतरिम बजट को लेकर उन्होने कहा – ‘में 6 हज़ार रुपये किसानों को वार्षिक योजना से किसानों को बहुत फायदा होगा’. वहीं उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना भी साधा. इनेलो बसपा गठबंधन के टूटने के कगार पर पहुंचने पर उन्होंने कहा कि इन दोनों पार्टियों के अपने किस्से हैं ,ज्यादा ध्यान देने की जरूरत नहीं  है.12 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुरुक्षेत्र के दौरे को लेकर ओपी धनखड़ ने कहा कि हरियाणा पहला प्रदेश रहा जिसने पढ़ी लिखी पंचायतों की शुरुआत की है. जिसमें महिलाओं को 33 प्रतिशत भागीदारी दी गई है. प्रधानमंत्री महिलाओं को संबोधित करेंगे. 

किसानों के हित में फैसला और प्रधानमंत्री का हरियाणा आना इन तमाम चीजों को देखकर ये माना जा सकता है कि बीजेपी ये चाहती है कि देश की जनता ये महसूस करे कि अच्छे दिन आ गए हैं.

 


जनता लाइव टीवी

Right Ads
Google Play

© Copyright Jantatv 2016. All rights reserved. Designed & Developed by: Paramount Infosystem Pvt. Ltd.