Top ADVT
होम | खेल | टीम चयन से नाराज गावस्कर को आई धोनी की याद, बोले- धोनी को नहीं लेना था टेस्ट से संन्यास

टीम चयन से नाराज गावस्कर को आई धोनी की याद, बोले- धोनी को नहीं लेना था टेस्ट से संन्यास

 

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच जारी तीन मैचों की सीरीज के दूसरे टेस्ट में ऐसा कुछ हुआ, जिसके बाद से क्रिकेट दिग्गजों से लेकर फैन्स को महेंद्र सिंह धौनी की काफी याद आ रही है। मैच में पार्थिव पटेल की विकेटकीपिंग देखकर हर कोई हैरान रह गया। पार्थिव ने जो कैच टपकाए हैं, वो भारत की हार का कारण भी बन सकते हैं। पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने इस मैच के दौरान कहा कि धौनी को टेस्ट क्रिकेट से संन्यास नहीं लेना चाहिए था।

मैच में कॉमेंट्री कर रहे गावस्कर ने पार्थिव की विकेटकीपिंग को देखकर बोले कि धोनी ने टेस्ट क्रिकेट को जल्द ही अलविदा कह दिया है वो अब भी टेस्ट क्रिकेट खेल सकते हैं परन्तु कप्तानी के बोझ की वजह से उन्होंने टेस्ट क्रिकेट से सन्यास ले लिया। गावस्कर बोले कि चाहे धोनी कप्तानी छोड़ देते परन्तु बतौर विकेटकीपर और बल्लेबाज़ टीम में बने रहते, ड्रेसिंग रूम में उनकी सलाह टीम के लिए बेहद कारगर होतीं। लेकिन शायद धोनी ने सोचा कि खेल के एक फॉर्मेट को छोड़ देना ही बेहतर होगा।

ऋद्धिमान साहा के चोटिल होने की वजह से तीसरे टेस्ट में दिनेश कार्तिक को विकेटकीपर की जगह लेनी पड़ेगी। पार्थिव ने दूसरे टेस्ट की पहली पारी में हाशिम अमला का कैच तब छोड़ा, जब 30 रन पर बैटिंग कर रहे थे। इसके बाद अमला ने 82 रन बनाए। इसी तरह साउथ अफ्रीका की दूसरी पारी में उन्होंने डीन एल्गर का आसान सा कैच पकड़ने की कोशिश भी नहीं की, इसके बाद एल्गर ने 61 रनों की पारी खेली।


जनता लाइव टीवी

Right Ads
Bottom ads
Google Play

© Copyright Jantatv 2016. All rights reserved. Designed & Developed by: Paramount Infosystem Pvt. Ltd.