नेशनल हेराल्ड केस: दिल्ली हाईकोर्ट में एजेएल की याचिका पर आज सुनवाई           मुंबई: मराठा आरक्षण मामले में आज पिछड़ा वर्ग आयोग सौंपेगा जांच रिपोर्ट           पेट्रोल की कीमत में गिरावट, दिल्ली में 15 पैसे की कमी के बाद 77.28 रु./लीटर हुआ           डीजल की कीमत में गिरावट, दिल्ली में 10 पैसों की कमी के बाद 72.09 रु./लीटर हुआ           पीएम मोदी सिंगापुर में आसियान-इंडिया इनफॉर्मल ब्रेकफास्ट समिट में शामिल हुए           दिल्ली: बवाना इंडस्ट्रियल इलाके के प्लास्टिक के गोदाम में लगी आग काबू में           दिल्लीः वसंत कुंज में डबल मर्डर, महिला फैशन डिजाइनर और नौकर की हत्या           दिल्लीः डबल मर्डर केस में पूछताछ के लिए 3 नौकर हिरासत में लिए गए           गाजा तूफान की आहट से सहमा दक्षिण भारत, तटीय इलाकों में हाईअलर्ट           उत्तर भारत के तीन राज्यों में भारी बर्फबारी से रफ्तार पर ब्रेक           जम्मू कश्मीर में जमकर बर्फबारी, सर्दी के शुरुआती दिनों में सफेद हुई घाटी         
होम | मनोरंजन | पिता के लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड सेरेमनी में भावुक हुई दीपिका पादुकोण

पिता के लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड सेरेमनी में भावुक हुई दीपिका पादुकोण

 

मुंबई। पूर्व बैडमिंटन प्लेयर प्रकाश पादुकोण को लाइफ टाइम अचीवमेंट से नवाजा गया है। ये बैडमिंटन प्लेयर कोई और नहीं बल्कि बॉलीवुड ऐक्ट्रेस दीपिका पादुकोण के पिता है। प्रकाश पादुकोण को दिल्ली में बैडमिंटन एसोसिएशन ऑफ इंडिया द्वारा आयोजित कार्यक्रम में लाइफ टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड से सम्मानित किया गया है। भारत के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडु ने प्रकाश पादुकोण को उनकी परिवार की मौजूदगी में यह अवॉर्ड देकर सम्मानित किया।

 

बता दें कि इस अवसर पर ऐक्ट्रेस दीपिका के साथ बहन अनीषा और मां उजाला पादुकोण कार्यक्रम में पिता को सम्मान मिलते देखने के लिए शामिल थे। पादुकोण ने 1980 में डेनमार्क ओपन के फाइनल में जगह बनाई थी और उसी साल ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप का खिताब जीता था।  

आपको बता दे कि साल 1980 में वे विश्व के नंबर-1 पुरुष बैंडमिटन खिलाड़ी रहे प्रकाश ने कहा कि मैं सम्मान को पाकर बेहद गर्व महसूस कर रहा हूं। इस सम्मान के पीछे मेरी प्रतिभा, मेरी कड़ी मेहनत के अलावा शुभचिंतकों की दुआओं का अहम रोल रहा है। मैं इसके लिए कर्नाटक राज्य बैंडमिंटन संघ और बीएआई का शुक्रिया अदा करता हूं, जिन्होंने उस समय कम संसाधनों के रहते हुए मेरा समर्थन किया।

उन्होंने कहा कि मैंने बैंडमिंटन परिणाम के बजाय अपने प्यार और संतुष्टि के लिए खेला।

 

ऐसे में अपने पिता को ये सम्मान मिलता देख दीपिका की आंखें खुशी से नम हो गई. जब दीपिका के पिता अवॉर्ड लेने स्टेज पर पहुंचे तब आखों में आंसू लिए दीपिका ने पूरे उत्साह के साथ उन्हें चीयर किया.

इंटरनेट पर एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें साफ तौर पर देखा जा सकता है कि अपने पिता को इस स्टेज पर देखकर दीपिका कितनी खुश हैं।

 

दीपिका ने एक इंटरव्यू में कहा था कि उनके पैरेंट्स ने हमेशा से उनका साथ दिया और उन्होंने कभी दीपिका को पीछे हटने के लिए प्रेरित नहीं किया है बल्कि दूसरी तरफ उनका हौसला बढ़ाया है। फिल्म के विवादों के बीच घिरने और दीपिका को मारने की धमकी की बीच उनके पैरेंट्स यह बात जानते थे कि उनकी बेटी अकेले सब कुछ संभाल लेंगीं।


जनता लाइव टीवी

Right Ads
Google Play

© Copyright Jantatv 2016. All rights reserved. Designed & Developed by: Paramount Infosystem Pvt. Ltd.