नेशनल हेराल्ड केस: दिल्ली हाईकोर्ट में एजेएल की याचिका पर आज सुनवाई           मुंबई: मराठा आरक्षण मामले में आज पिछड़ा वर्ग आयोग सौंपेगा जांच रिपोर्ट           पेट्रोल की कीमत में गिरावट, दिल्ली में 15 पैसे की कमी के बाद 77.28 रु./लीटर हुआ           डीजल की कीमत में गिरावट, दिल्ली में 10 पैसों की कमी के बाद 72.09 रु./लीटर हुआ           पीएम मोदी सिंगापुर में आसियान-इंडिया इनफॉर्मल ब्रेकफास्ट समिट में शामिल हुए           दिल्ली: बवाना इंडस्ट्रियल इलाके के प्लास्टिक के गोदाम में लगी आग काबू में           दिल्लीः वसंत कुंज में डबल मर्डर, महिला फैशन डिजाइनर और नौकर की हत्या           दिल्लीः डबल मर्डर केस में पूछताछ के लिए 3 नौकर हिरासत में लिए गए           गाजा तूफान की आहट से सहमा दक्षिण भारत, तटीय इलाकों में हाईअलर्ट           उत्तर भारत के तीन राज्यों में भारी बर्फबारी से रफ्तार पर ब्रेक           जम्मू कश्मीर में जमकर बर्फबारी, सर्दी के शुरुआती दिनों में सफेद हुई घाटी         
होम | हरियाणा | महेंद्रगढ़: जिला शिक्षा अधिकारी ने की अनूठी पहल, घर-घर जाकर रात्रि प्रेरणा अभियान किया शुरू

महेंद्रगढ़: जिला शिक्षा अधिकारी ने की अनूठी पहल, घर-घर जाकर रात्रि प्रेरणा अभियान किया शुरू

 

महेंद्रगढ़: महेंद्रगढ़ में जिला शिक्षा अधिकारी ने एक अनूठी पहल शुरू की है। शिक्षा की अलख जगाने खुद जिला शिक्षा अधिकारी निकल पड़े है, जिन्होंने सरकारी स्कूलो में पढ़ने वाले बच्चों के घर-घर जाकर रात्रि प्रेरणा अभियान शुरू किया है।

महेंद्रगढ़ में जिला शिक्षा अधिकारी ने सरकारी स्कूलों में विधार्थियों के गिरते हुए स्तर को उठाने के लिए एक अनूठी मुहिम की शुरुआत की है। जिला शिक्षा अधिकारी मुकेश लावनिया सरकारी स्कूल के प्राचार्य और अध्यापकों को साथ लेकर सरकारी स्कूलों में पढने वाले बच्चों के घर-घर जाकर रात्रि प्रेरणा अभियान चला रहे है। यह अभियान जिले के सभी 730 विधालयों में पूरे 2 महीने वार्षिक परीक्षा तक चलेगा। जिला शिक्षा अधिकारी ने कहा कि चरित्र निर्माण की बाते तो स्कूल में बताई जाती है, लेकिन बच्चों के हुनर का उनके अभिभावकों के सामने मूल्यांकन करना ही उनका हमारा संकल्प है।

वहीं सरकारी स्कूलों के प्राचार्य भी जिला शिक्षा अधिकारी की इस मुहिम की सराहना कर रहे है।

 इस मुहिम में जिला शिक्षा अधिकारी को बच्चों के साथ-साथ अभिभावकों का भी सकारात्मक रुझान मिल रहा है।

वाक्ई जिला शिक्षा अधिकारी की मुहिम सराहनीय है, क्योंकि गरीब तबके के लोगों को दो वक्त की रोटी जुटाने के लिए दिन-रात मशक्कत करनी पड़ती है, जिसके चलते वो अपने बच्चों के भविष्य के बारे में सोच नहीं पाते, लेकिन इस मुहिम के जरिए उनमें जागरुकता बढ़ेगी और गरीब परिवारों के बच्चों का भविष्य भी उज्जवल हो सकेगा। 


जनता लाइव टीवी

Right Ads
Google Play

© Copyright Jantatv 2016. All rights reserved. Designed & Developed by: Paramount Infosystem Pvt. Ltd.