tata sky
पंजाब दौरे पर कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो, अमरिंदर सिंह से करेंगे मुलाकात          पंचकूला-मल्टीपल प्लॉट अलॉटमेंट मामले में खुलासा, मामले में 59 लोगों के खिलाफ किए गए केस दर्ज          पानीपत-आज से शुरू होगा जिला पासपोर्ट कार्यालय, सांसद अश्विनी चोपड़ा करेंगे कार्यालय का उद्घाटन          परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार भी रहेंगे मौजूद, पोस्ट ऑफिस में बनाया गया है पासपोर्ट कार्यालय          दिल्ली-यमुना में दूषित पानी का मामला, NGT में दिया जाएगा मामले का ब्यौरा          चंडीगढ़-दिल्ली में मुख्य सचिव के साथ बदसलूकी का मामला, हरियाणा की आईएएस एसोसिएशन ने भी जताया विरोध           बहादुरगढ़-पुलिस ने एक घर से 2 युवतियों को छुड़वाया, ह्यूमन ट्रैफिकिंग से जुड़ा मामला होने की आशंका           घर में बंधक बनाकर रखी गई थीं दोनों युवतियां, पड़ोसियों ने चिल्लाने की आवाज सुनकर दी शिकायत          चंडीगढ़-मुख्यमंत्री करेंगे ACS के साथ बैठक, बैठक में मंथन शिविर में हुए फैसलों पर होगी चर्चा         
होम | हरियाणा | महेंद्रगढ़: जिला शिक्षा अधिकारी ने की अनूठी पहल, घर-घर जाकर रात्रि प्रेरणा अभियान किया शुरू

महेंद्रगढ़: जिला शिक्षा अधिकारी ने की अनूठी पहल, घर-घर जाकर रात्रि प्रेरणा अभियान किया शुरू

 

महेंद्रगढ़: महेंद्रगढ़ में जिला शिक्षा अधिकारी ने एक अनूठी पहल शुरू की है। शिक्षा की अलख जगाने खुद जिला शिक्षा अधिकारी निकल पड़े है, जिन्होंने सरकारी स्कूलो में पढ़ने वाले बच्चों के घर-घर जाकर रात्रि प्रेरणा अभियान शुरू किया है।

महेंद्रगढ़ में जिला शिक्षा अधिकारी ने सरकारी स्कूलों में विधार्थियों के गिरते हुए स्तर को उठाने के लिए एक अनूठी मुहिम की शुरुआत की है। जिला शिक्षा अधिकारी मुकेश लावनिया सरकारी स्कूल के प्राचार्य और अध्यापकों को साथ लेकर सरकारी स्कूलों में पढने वाले बच्चों के घर-घर जाकर रात्रि प्रेरणा अभियान चला रहे है। यह अभियान जिले के सभी 730 विधालयों में पूरे 2 महीने वार्षिक परीक्षा तक चलेगा। जिला शिक्षा अधिकारी ने कहा कि चरित्र निर्माण की बाते तो स्कूल में बताई जाती है, लेकिन बच्चों के हुनर का उनके अभिभावकों के सामने मूल्यांकन करना ही उनका हमारा संकल्प है।

वहीं सरकारी स्कूलों के प्राचार्य भी जिला शिक्षा अधिकारी की इस मुहिम की सराहना कर रहे है।

 इस मुहिम में जिला शिक्षा अधिकारी को बच्चों के साथ-साथ अभिभावकों का भी सकारात्मक रुझान मिल रहा है।

वाक्ई जिला शिक्षा अधिकारी की मुहिम सराहनीय है, क्योंकि गरीब तबके के लोगों को दो वक्त की रोटी जुटाने के लिए दिन-रात मशक्कत करनी पड़ती है, जिसके चलते वो अपने बच्चों के भविष्य के बारे में सोच नहीं पाते, लेकिन इस मुहिम के जरिए उनमें जागरुकता बढ़ेगी और गरीब परिवारों के बच्चों का भविष्य भी उज्जवल हो सकेगा। 


जनता लाइव टीवी

Right Ads
Google Play

© Copyright Jantatv 2016. All rights reserved. Designed & Developed by: Paramount Infosystem Pvt. Ltd.