होम | देश | आसमान में बस 100 मीटर के फासले पर आमने-सामने थे दो प्लेन, महिला पायलट की सूझबूझ से बची 261 जिंदगियां

आसमान में बस 100 मीटर के फासले पर आमने-सामने थे दो प्लेन, महिला पायलट की सूझबूझ से बची 261 जिंदगियां

 

 

नई दिल्ली: मुंबई में एयर इंडिया और विस्तारा प्लेन के आमने-सामने आ जाने के मामले में नई जानकारी सामने आई है। बताया जा रहा है कि जिस समय यह घटना हुई उस समय दोनों ही प्लेन को महिला पायलट उड़ा रही थीं। एयर इंडिया के विमान को पायलट अनुपमा कोहली उड़ा रही थीं। वहीं विस्तारा में पायलट के टायलेट ब्रेक पर जाने के कारण उसकी महिला को पायलट फ्लाइट को कंट्रोल कर रही थीं। दोनों प्लेन में करीब 261 यात्री सवार थे।

दरअसल एयर इंडिया की विमान संख्या A-319 मुंबई से भोपाल के, और विस्तारा की विमान संख्या A-320 दिल्ली से पुणे के लिए उड़ान भर रही थी। तभी कोऑर्डिनेशन में कुछ दिक्कत हुई और यह दोनो विमान एक दूसरे के बहुत ही करीब आ गए। 

उस वक्त दोनों ही फ्लाइट 27,100 फीट की ऊंचाई पर थी, और एक दुसरे से महज कुछ ही दूरी पर थी। तभी एयर इंडिया की पायलट, अनुपमा को एहसास हुआ कि उनके विमान की दिशा मे कोई और विमान आ रहा है। उन्होंने स्थिति को संभाले हुए अपने अनुभव का प्रयोग किया। बिना किसी देरी के कोहली ने विमान को दाहिनी तरफ मोडते हुए थोडा और नीचे कर लिया, जिससे बडी दुर्घटना होने से बच गई। 

अनुपमा की सोच का हर कोई कायल हो गया है। एयर इंडिया ने भी उनकी तारीफ़ की है। यात्री तो उन्हें साक्षात भगवान का दूसरा रूप बता रहें हैं। अनुपमा भारतीय समाज के लिए एक उदाहरण है कि लडकियां भी चाहे तो हर काम को कर सकती हैं। वो चाहे तो ना सिर्फ हवा मे उड़ान भर सकती हैं, बल्कि जरूरत पडने पर लोगों की जिंदगी बचा भी सकती हैं। 


जनता लाइव टीवी

Right Ads
Google Play

© Copyright Jantatv 2016. All rights reserved. Designed & Developed by: Paramount Infosystem Pvt. Ltd.