अखिलेश यादव ने कहा- जो कांग्रेस है वो बीजेपी है और जो बीजेपी है वो कांग्रेस है           केरल: कोच्‍च‍ि पहुंची तृप्‍त‍ि देसाई ने कहा- सबरीमाला में पूजा करना हमारा मिशन           किम जोंग के सुपरविजन में उत्‍तरी कोरिया ने नए हथियार हाईटेक का किया परिक्षण           पेट्रोल की कीमत में गिरावट, दिल्‍ली में 18 पैसे की कमी के बाद 77.10 रुपए प्रति लीटर हुआ           डीजल की कीमत में गिरावट, दिल्‍ली में 16 पैसे की कमी के बाद 71.93 रुपए प्रति लीटर हुआ           J-K: आतंकियों द्वारा पुलवामा से अगवा किए गए नागरिक का बुलेट से छलनी शव मिला           कोच्‍च‍ि: सुरक्षा की दृष्‍ट‍ि से पुलिस ने तृप्‍त‍ि देसाई को एयरपोर्ट पर रोका           दिल्ली: पारिवारिक झगड़े के बाद हेड कॉन्स्टेबल ने की खुदकुशी           सबरीमाला विवाद: टैक्सी ड्राइवरों का तृप्ति देसाई को निलक्कल ले जाने से इनकार           सबरीमाला विवाद: मुझ पर हमला हो सकता है, मुझे धमकियां मिली- तृप्ति           अमृतसर में आतंकी जाकिर मूसा के घुसने की खबर, पुलिस ने लगाए पोस्टर          
होम | देश | कानपुरः हैलट अस्पताल के आईसीयू का एसी फेल होने से पांच मरीजों की मौत

कानपुरः हैलट अस्पताल के आईसीयू का एसी फेल होने से पांच मरीजों की मौत

 

यूपी के कानपुर में गुरुवार देर रात बड़ी घटना सामने आई. यहां के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल लाला लाजपत राय चिकित्सालय (हैलट हॉस्पिटल) में अचानक आईसीयू का एसी प्लांट खराब हो गया.

इस वजह से वार्ड में भर्ती पांच मरीजों की मौत हो गई. हैलट के आईसीयू में चार बच्चों समेत 11 मरीज भर्ती थे. अस्पताल प्रशासन ने मौत की जांच के आदेश दे दिए हैं.

लेकिन डॉक्टरों ने मामले में लीपापोती भी शुरू कर दिया है. उनका कहना है कि मौत एसी फेल होने की वजह से नहीं हुई है. सभी मृतक मरीजों की हालत गंभीर थी.

बताया जा रहा है कि एसी में पिछले कई दिनों से खराबी देखने को मिल रही थी. लेकिन उस पर ध्यान नहीं दिया गया और जुगाड़ से उसे ठीक चलाया जाता रहा. गुरुवार को आईसीयू के सारे एसी बंद हो गए. ओवर हीटिंग के कारण सभी उपकरणों ने काम करना बंद कर दिया. जिसकी वजह से इंद्रपाल (75), गया प्रसाद (75), रसूल बख्श (55), मुरारी (56) व एक अन्य की मौत हो गई.

आईसीयू प्रभारी डॉ सौरभ अग्रवाल का कहना है कि बीते 24 घंटे में पांच मरीजों की मौत तो हुई है, लेकिन एसी प्लांट फेल होने से नहीं. तीन मरीजों की मौत हार्ट अटैक से जबकि दो मरीज काफी गंभीर थे. उन्हें देर रात न्यूरोसर्जरी आईसीयू में शिफ्ट करने की तैयारी की जा रही थी.
 

उधर एसी प्लांट ख़राब होने से गंभीर मरीजों में संक्रमण का खतरा बढ़ गया है. कहा जा रहा है कि काफी दिनों से मेंटेनेंस नहीं होने की वजह से गुरुवार को प्लांट पूरी तरह ठप हो गया. जिसके बाद 12 बेड वाले आईसीयू के खिड़की और दरवाजे खोल दिए गए. तीमारदार अपने हाथों से पंखे झलने लगे.


जनता लाइव टीवी

Right Ads
Google Play

© Copyright Jantatv 2016. All rights reserved. Designed & Developed by: Paramount Infosystem Pvt. Ltd.